August 4, 2022


डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। तेज गति से गेंदबाजी करने के लिए मशहूर रहे पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब अख्तर ने अपने ताजा बयान से एक नये विवाद को जन्म दे दिया है। शोएब ने एक स्पोर्ट वेबसाइट स्पोर्ट्स कीड़ा को दिए इंटरव्यू में खुलासा किया कि, वह साल 2006 में भारत-पाकिस्तान के बीच हुए कराची टेस्ट मैच के दौरान भारत के सबसे सफल और लोकप्रिय क्रिकेट खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर को मारना चाह रहे थे। शोएब अख्तर के बयान पर सोशल मीडिया पर लोगों ने अलग – अलग प्रतिक्रियाएं दी हैं। बता दें कि शोएब अपने क्रिकेट करियर के दौरान अपने खेल से ज्यादा विवादों को लेकर चर्चा में रहे हैं।

जानिए क्या कहा शोएब ने?

शोएब अख्तर ने स्पोर्टस कीड़ा को दिए इंटरव्यू में 2006 में कराची टेस्ट मैच का जिक्र किया कि, मैं यह पहली बार बता रहा हूं। मैं उस समय वाकई सचिन को मारना चाहता था। मैंने सोचा कि मुझे सचिन को किसी भी हाल में जख्मी करना है। मैंने उनके हेलमेट पर गेंद मारी भी। मुझे लगा कि वो गए, मर जाएंगे। लेकिन जब मैंने वीडियो देखा, तब पाया कि उन्होंने बॉल को सर में लगने से बचा लिया है। इसके बाद मैंने उन्हें दोबारा जख्मी करने की कोशिश की। 

सचिन को लेकर पहले भी दे चुके विवादित बयान

शोएब इससे पहले भी सचिन को लेकर विवादित बयान दे चुके हैं। उन्होंने अपनी आत्मकथा कंट्रोवर्शियल योर्स में लिखा है कि फैसलाबाद की पिच पर सचिन उनकी फास्ट बॉलों का सामना करने से डर रहे थे। 
साथ ही उन्होंने यह भी लिखा था कि सचिन और राहुल द्रविड़ कोई मैच विनर खिलाड़ी नहीं हैं, उनमें मैच को जिताने की क्षमता नहीं है। 

शोएब के बयान पर सोशल मीडिया पर आईं प्रतिक्रियाएं

शोएब के इस बयान पर अलग-अलग प्रतिक्रियाएं आईं। कुछ यूजर्स ने शोएब अख्तर के इस खुलासे को ज्यादा तवज्जो नहीं दी है। हालांकि कुछ यूजर्स शोएब अख्तर की आलोचना करने और क्रिकेट के भगवान पर निशाना साधने पर करारा जवाब भी दे रहे हैं। एक यूजर ने कहा कि लोगों को शोएब की बातों का बुरा नहीं मानना चाहिए वो किसी का अपमान नहीं कर रहे थे बल्कि बाउंसर बॉल के बारे में बात कर रहे थे।
वहीं एक दूसरे यूजर ने अपने ट्विट में लिखा, शोएब ने मैच तो 200 खेले होंगे लेकिन, उनके किस्से 30 हजार हैं।    

मैच फिक्सिंग करने वाले गेंदबाज की तारीफ की

शोएब ने इंटरव्यू में ऐसे पाकिस्तानी तेज गेंदबाज की तारीफ की जो मैच फिक्सिंग में पकड़ाया गया था, जिसे आईसीसी ने सजा के रुप में निलंबित कर दिया था। दरअसल, शोएब पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज मोहम्मद आसिफ की बात कर रहे थे। शोएब ने कहा, जैसी बॉलिंग कराची टेस्ट मैच में आसिफ ने की, वैसी बहुत कम देखने को मिलती है।

बता दें कि भारत यह मैच 341 रनों से हार गया था। इस मैच को जीतकर पाकिस्तान ने टेस्ट सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली थी। यह मैच एक और वजह से हमेशा याद रखा जाएगा, वह वजह है पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज इरफान पठान के द्वारा मैच के पहले ही ओवर में ली गई हैट्रिक। उन्होंने लगातार गेदों पर सलमान बट्ट, यूनिस खान और मोहम्मद यूसुफ को आउट किया था।   

 





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.